Breaking

Wednesday, June 26, 2019

June 26, 2019

Door bell connection AC and DC current and multiple in Hindi

Doorbell का कनेक्शन कैसे किया जाता है एक स्वीट से दो डोर बेल या मल्टीपल
डोर बेल का कनेक्शन कई तरह से किया जाता है  डोर बेल जिसे कॉल बेल भी कहा जाता है इसका उपयोग ज्यादातर घरों में दरवाजे के पास स्विच लगाया जाता है और घर के अंदर डोरबेल घंटी लगाया जाता है जब भी कोई व्यक्ति आता है तो उस चीज को दबाता करता है जिसके पता चलता है कि कोई व्यक्ति बाहर आया हुआ है और हॉस्पिटल में भी इस्तेमाल किया जाता है और भी बहुत तरह के जरूरत के हिसाब से इसका इस्तेमाल किया जाता है 

जिसमें इस को ऑन ऑफ करने के लिए एक स्विच लगता है

और एक डोर बेल होता है जरूरत के हिसाब से कई डोरबेल लगाया जाता है

(1) एक डोर बेल होता है जो सिर्फ एसी पावर सप्लाई पर काम करता है जो लगभग 220 वोल्ट से 240 वोल्ट तक प्रॉपर तरह से वर्क करता है जिसमें किसी भी तरह का सेल यानी बैटरी नहीं लगता है उसमें न्यूट्रल करेंट डोरबेल में डायरेक्ट कनेक्शन कर दिया जाता है और फेस करेंट को बिल्कुुुल स्विच के थ्रू कनेक्शन किया जाताा है जैसे नीचे दिखाए गए डायग्राम को अच्छी तरह से देखिए और समझिए इस तरह से कनेक्शन किया जाता है इसमें सिर्फ एक स्विच एक डोर बेल का कनेक्श वायरिंग किया गया है 

(2) एक डोर बेल होता है जो सिर्फ डीसी पावर सप्लाई करंट पर वर्क करता है जिसमें नेगेटिव और पॉजिटिव और सप्लाई डीसी का होता है जिसका कनेक्शन नेगेटिव जिसे माइनस बी करते हैं वह डायरेक्ट डोर बेल के एक वायर में कनेक्ट हो जाता है और दूसरा पॉजिटिव करंट जिसे पलस भी कहा जाता है वह स्विच के थ्रू जाता है नीचे दिए गए डायग्राम यानी ड्राइंग में अच्छी तरह से देखिए और समझिए जिसमें एक बेल पुश स्विच और एक डोर बेल का कनेक्शन किया गया है
(3) एक डोर बेल होता है जो किसी भी पावर सप्लाई करंट से नहीं चलता है चलने के लिए तो डीसी पावर सप्लाई पर काम करता है और एक डोर बेल होता है एसी और डीसी दोनों पावर सप्लाई पर काम करता है पर इसमें किसी भी तरह का पावर करंट नहीं दिया जाता है और इसका कनेक्शन किया जाता है जनरल ही ज्यादातर या कनेक्शन होता है जो बिना किसी करंट के चलता है पर डोरबेल के अंदर सेल यानी बैटरी लगा हुआ रहता है जिसका कनेक्शन नीचे दिए गए डायग्राम को देखिए समझिए ज्यादातर जनरली यही कनेक्शन होता है

(4) कुछ जगहों पर कुछ जरूरत के हिसाब से एक स्विच से दो डोर बेल का कनेक्शन किया जाता है यह ज्यादातर एक डोर बेल रूम में होता है दूसरा डोरबेल किसी दूसरे फ्लोर या छत या सीडी अन्य जगह पर रहता है इसलिए क्योंकि अगर कोई व्यक्ति एक घर में रहता है और वह ज्यादातर इधर उधर रहता है जैसे छत पर या दूसरे फ्लोर पर जहां पर वह चाहता है कि डोरबेल हमारा वहां पर भी बजे एक ही स्विच रहता है जो मेन दरवाजेेे के पास लगा हुआ रहता है घर के बाहर  जिसका कनेक्शन आप डोरबेल सिर्फ डीसी या एसी एंड डीसी दोनों करंट पर चलने वालाा लगाते है तो वहां पर कनेक्शन सीरीज करना होगा जैसे नेगेटिव टो पॉजिटिव एक डोर बेल से दूसरे डोर बेल तक अगर वायर उल्टा हो जाए तो काम नहीं करेगा जैसे नीचे दिए गए डायग्राम को देखिए और अच्छी तरह से समझाइए जिसमें आपका दो डोरबेल है और एक स्विच DC
(5) और कुछ जगहों पर सिर्फ डोरबेल एसी पावर सप्लाई से चलता है जहां पर एक स्विच और दो डोरबेल होता है पर वहां पर अगर एक वायर चेंज हो जाए तो भी प्रॉपर तरह से काम करता है जैसे एक डोर बेल से दूसरे डोरबेल में जो सीरीज किया जाता है डीसी में उल्टा हो जाए तो काम नहीं करेगा पर यहां पर काम कर जाता है फिर भी कनेक्शन सही तरह से करना चाहिए जैसे नीचे दिए गए डायग्राम ड्रिंक को देखिए और समझिए इसमें एसी पावर सप्लाई से दो डोरबेल एक स्विच से कंट्रोल का कनेक्शन है
(6) और एक होता है जो जनरल किसी भी पावर सप्लाई करंट का इस्तेमाल नहीं किया जाता है और उसका कनेक्शन एक स्विच से दो डोर बेल का किया जाता है जो डोरबेल सिर्फ डीसी होता है या एसी डीसी दोनों पर वर्क करता है इसके अंदर बैटरी लगा हुआ रहता है जिसके लिए सिर्फ उस बैटरी से इसको पावर करंट मिल जाता है और यह प्रॉपर तरह से काम करता है जैसे नीचे दिए गए डायग्राम को देखिए और इस तरह से वायरिंग कर सकते हैं और कनेक्शन कर सकते हैं
अगर आप वीडियो के माध्यम से देखना चाहते हैं जिसमें आपको प्रैक्टिकल कनेक्शन करके और चेक करके दिखलाया गया है

यहाँ पर किलिक कीजिए

अगर आप और भी इलेक्ट्रिकल से जुड़ी हुई जानकारी चाहते हैं तो हमारे यूट्यूब चैनल पर जाए

Electric work center

EWC Electricals


Like 
Share
👍👍👍

Saturday, June 22, 2019

June 22, 2019

Electrical light connection in Hindi

Electrical light (Bulb...) connection in Hindi
किसी भी इलेक्ट्रिकल बल्ब या लाइट का कनेक्शन दो तरह के करेन्ट से होता है जो DC और AC होता है 

हम लोग यहां पर जानेंगे कि AC current पर बल्ब या लाइट का कनेक्शन कैसे किया जाता है अगर आपको DC current पर बल्ब या लाइट का कनेक्शन जानना है तो कमेंट जरूर करें मैं एक डायग्राम और अच्छी आर्टिकल जरूर लिखूंगा और आप लोगों के सामने लेकर के आऊंगा

तो जैसे कोई भी बल्ब या लाइट का कनेक्शन करना है तो दो तरीका होता है एक होता है जो स्विच के थ्रू कंट्रोल होता है यानी स्वीट से ऑन होगा ऑफ होगा एक होता है डायरेक्ट जो हमारा स्विच से और अब नहीं होगा

अगर आप स्वीच से कंट्रोल करना चाहते हैं किसी बल्ब या लाइट को तो आपको कुछ इस तरह से कनेक्शन करना होगा जैसे एक फेस होता एक न्यूट्रल होता है हमारा मेन पावर सप्लाई जो बल्ब या लाइट में कनेक्शन होता है जिसमें हमारा न्यूट्रल पावर सप्लाई करंट वायर जो होता है वह डायरेक्ट बल्ब का कनेक्शन होता है लेकिन फेस पावर सप्लाई करंट वायर स्विच के थ्रू जाता है स्विच में 2 पॉइंट होते हैं आपका फेस वायर 1 पॉइंट में कनेक्ट हो जाता है और दूसरे पॉइंट से बल्ब या किसी भी लाइट में कनेक्शन होता है वह हमारा कंट्रोल स्विच हो जाता है जैसे नीचे दिए गए डायग्राम को देखें और अच्छी तरह से समझे
अब चलिए हम बात करते हैं अगर बल या लाइट को स्विच के थ्रू कंट्रोल नहीं करना है या नहीं स्वीट से ऑन अब नहीं करना है डायरेक्ट जलाना है तो उसका कनेक्शन कैसे किया जाता है जैसे अगर आपको डायरेक्ट बल्ब को रखना है स्विच नहीं लगाना है तो आपको जिस तरह से न्यूट्रल वायर बल्ब में डायरेक्ट कनेक्शन करते हैं उसी तरह से फिश वायर भी बल में डायरेक्ट कनेक्शन कर देंगे जैसे नीचे दिए गए डायग्राम को देखें और अच्छी तरह से समझे
तो इस तरह से किसी बल्ब या लाइट का कनेक्शन एसी पावर सप्लाई करंट पर किया जाता है अगर आपके मन में किसी भी तरह का डाउट है सवाल है सुझाव है तो नीचे कमेंट बॉक्स में जरूर लिखें और इसी तरह का इलेक्ट्रिकल नॉलेज हिंदी में जानकारी चाहते हैं तो आप घंटी आइकन को एलाऊ जरूर करें और वीडियो के माध्यम से और अच्छी तरह से हर तरह के इलेक्ट्रिकल नॉलेज की जानकारी चाहते हैं तो यूट्यूब पर सर्च करें इलेक्ट्रिक वर्क सेंटर

Electric work center
EWC Electrical

Like
Share
👍👍👍

Monday, January 14, 2019

January 14, 2019

How to make electric main board ।। jan 2019

Electric main board step by step Mac cutting fitting and connection and drawing a to z Hindi
कोई भी इलेक्ट्रिक मैन बोर्ड बनाने से पहले लोड का कैलकुलेशन कर लेना चाहिए कि हम एक कितना लोड चलाना है उसके हिसाब से ही मैटेरियल लगाना चाहिए चाहे रहो या चेंज ओवर हो या किटकैट फ्यूज हो या एमसीबी हो या कोई भी इलेक्ट्रिकल इंस्ट्रूमेंट कहीं पर भी आप लगा रहे हैं तो सबसे पहले लोड की कैलकुलेशन सही तरह से कर लेना चाहिए और उसके हिसाब से थोड़ा ज्यादा कैपेसिटी या नहीं लोड से हेवी पावर का मैटेरियल लगाना चाहिए इसलिए कि खराब नहीं हो लोड चलाने पर कभी भी कोई भी इलेक्ट्रिकल मैटेरियल अच्छी ब्रांड क्या लगाएं क्योंकि लोकल ब्रांड ज्यादातर अच्छी मटेरियल नहीं देती है जिसके कारण हमारा इलेक्ट्रिकल कोई भी स्टूमेंट जब चलाते हैं तो खराब हो जाता है चाहे वह हो या चेंज ओवर हो या कीट काट या कोई भी इलेक्ट्रिकल स्टूमेंट कभी भी लोकल ब्रांड नहीं लगाना चाहिए जिससे आप यूज किए हैं और अच्छा चलता है या ज्यादातर लोग जिस कंपनी का यूज करते हैं और उसका मार्केट में अच्छा रिपोर्टर शांत होता है या नहीं अच्छा नाम होता है और शिकायत नहीं मिलता है उसी कंपनी का मैटेरियल लगाना चाहिए

कोई भी इलेक्ट्रिकल मेन बोर्ड बनाने से पहले यह पता कर ले कि हमें क्या-क्या सुविधा चाहिए यहां पर हम आपको बताएंगे अगर आप कोई भी दो पावर सप्लाई चेंज करके यूज़ करना चाहते हैं जैसे एक में गवर्नमेंट पावर सप्लाई हो गया और दूसरा जनरेटर का पावर सप्लाई हो गया या अब दो जनरेटर फॉर सप्लाई यूज कर सकते हैं या आप चाहे तो कोई भी किसी तरह का दोपहर सप्लाई यूज कर सकते हैं सिर्फ सिंगल फेज की ही कनेक्शन बतलाया जा रहा है सिंगल फेज में 1 फेज पावर होता है और एक न्यूट्रल पर होता है या नहीं 2 बार होता है यह हमेशा ध्यान में रखिएगा

हम यहां पर आपको एक चेंज ओवर स्विच और चार किटकैट फ्यूज और 3 पैनल इंडिकेटर और 6 एमसीबी कैसे लगाते हैं और इसका कनेक्शन कैसे करते हैं यह हम आपको बताएंगे सिंगल फेज में

तो सबसे पहले मीनवाइल को न्यूट्रल और फेस मेन पावर सप्लाई गवर्नमेंट का है तो ले करके आएंगे कीट काट में इनपुट करेंगे और दूसरे साइड से आउटपुट करेंगे और उसको लेकर के जाएंगे चेंज ओवर में और चेंज ओवर में इनपुट साइड कनेक्शन करेंगे उसी तरह से सेम जनरेटर पावर सप्लाई का 21 न्यूट्रल एक्सप्रेस ले करके आएंगे किटकैट में इनपुट करेंगे और किटकैट से आउटपुट दोनों वायरस को ले करके जाएंगे चेंज ओवर स्विच के दूसरे वाले साइट इनपुट में और उसके बाद जो चेंज ओवर स्विच आउट होगा 2 वायर 1 न्यूटन और फेज उसको लेकर के सिर्फ फेज वायर एमसीबी में इनपुट करेंगे अगर एक से ज्यादा एमसीबी है तो सभी में लूपिंग कर देंगे इनपुट साइड चाहे एमसीबी 1,हो 2 हो 3 हो या दस हो चाहे जितना भी एमसीबी हो सबको लूपिंग कर दिया जाता है और लोड के हिसाब से ही वायर या कोई भी मैटेरियल लगाया जाता है और उसके बाद एमसीबी से जो भी आप का सर्किट है चाहे एक एमसीबी हो या 10 सब सर्किट का फेज वायर एमसीबी से जाएगा और न्यूट्रल डायरेक्ट चेंज ओवर स्विच के आउटपुट से लुक हो जाएगा चाहे जितना न्यूट्रल हो अगर बात करें इंडिकेटर की तो चेंज भर के आउटपुट न्यूट्रल फेस दोनों वायर में से लूप करके ग्रेन इंडिकेटर में जाएगा और ग्रीन इंडिकेटर उस टाइम चलेगा जब आपका चेंज ओवर पावर सप्लाई आउट कर जाएगा और रेड इंडिकेटर में दो बार जो किटकैट से चेंज व के इनपुट में कनेक्शन हो रहा है मेन पावर सप्लाई उसमें से कनेक्शन लुकिंग करके हो जाएगा रेड इंडिकेटर उस टाइम चलेगा जब आपका मेन पावर सप्लाई में करंट हो और उसके बाद यह लो इंडिकेटर में दो वायर का कनेक्शन होगा जोोो किट काट से चेंज ओवर में इनपुट हो रहाा है जनेटर का वायर उसी से लूपिंग करके यह लो इंडिकेटर मेंं कनेक्शन हो जाएगा जब जनरेटर वायर में करंट रहेगा तब यल्लो इंडिकेटर जलेगा  जैसेर नीचे दिए गए डायग्राम पर अच्छी तरह से समझ सकते हैं

अगर आपको डायग्राम पर समझ में नहीं आता है तो इस वीडियो में भी अच्छी तरह से समझ सकते हैं



अगर आपको इस वीडियो में भी समझ में नहीं आया तो आप हमारे युटुब चैनल पर जाए जहां पर आपको नींद बोर्ड की कटिंग फिटिंग कनेक्शन ए टू जेड प्रैक्टिकली लाइव टेस्ट के साथ दिखलाया बताया गया है कि कैसे मेन बो दिखलाया बताया गया है कि कैसे इलेक्ट्रिकल मेन बोर्ड कैसे बनाते हैं और कनेक्शन कैसे करते हैं और लाइन चालू करके दिखाया गया है ए टू जेड तो नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके देख सकते हैं

YoutYou video link


Electric main board all types


आपने इतना समय निकालकर हमें अपना कीमती वक्त दिया इसके लिए धन्यवाद अगर आपके मन में किसी भी तरह का सवाल सुझाव है इस इलेक्ट्रिकल मेन बोर्ड के ऊपर तो कमेंट जरूर करें

धन्यवाद👍👍👍


Tuesday, January 8, 2019

January 08, 2019

How to work MCB phase and Earth current trip

MCB working phase and Earth tripping
Hindi

MCB जो होता है उसे हम लोग लगाते हैं अपने घर में या किसी प्लांट में या किसी फैक्ट्री में या कहीं भी किसी भी कंपनी में जहां पर इलेक्ट्रिकल वर्क किया जाता है जैसे इलेक्ट्रिकल वायरिंग चाहे सिंगल फेस हो चाहे थ्री फेस हो वहां पर सेफ्टी के लिए हम लोग सर्किट ब्रेकर यूज करते हैं जिसे MCB, ELCB, RCCB,MCCB,.........इत्यादि 
जैसे नामों से बहुत तरह के इलेक्ट्रिक सर्किट ब्रेकर आते हैं लेकिन जो हमारा एमसीबी होता है जिसे हम लोग यूज़ करते हैं जैसे कहीं पर किसी तरह का लोड देते हैं चाहे कम लोड हो या ज्यादा लोड हो सिंगल फेस हो या फ्री फेस हो जितना लोड है उसके कैपेसिटी के हिसाब से एमसीबी लगाते हैं और कभी भी शार्ट सर्किट होता है अगर सिंगल फेस है जैसे न्यूट्रल फेस अगर शार्ट सर्किट होता है तो हमारा एमसीबी ट्रिप करता है अगर तीन फेस है तो वह वहां पर अगर तीन फेस का एमसीबी यूज किया गया है और सिर्फ एस जा रहा है तीन तो अगर आपस में कोई भी 2 फेस शार्ट सर्किट होता है तो हमारा एमसीबी ट्रिप करेगा या कहीं पर चार पोल का एमसीबी लगा है जिसे टीपीएन के नाम से भी जाना जाता है जिसमें 3 फेज और एक न्यूट्रल होता है तो उसमें दो फेज अगर आपस में शार्ट सर्किट होता है तो एमसीबी ट्रिप करेगा या कोई 1 फेज 1 न्यूट्रल आपस में शार्ट सर्किट होता है तो एमसीबी ट्रिप करेगा या नहीं कहीं पर भी किसी भी कारण से शार्ट सर्किट होता है तो एमसीबी ट्रिप करता है लेकिन हम लोग अर्थ का भी वायरिंग करते हैं सेफ्टी के लिए जिसे हम लोग ग्राउंड के नाम से भी जानते हैं ग्राउंड इसलिए करते हैं कि कहीं पर कोई भी मेटल का बॉडी हो उसमें करंट आ जाए किसी भी तरह का इलेक्ट्रिकल इंस्ट्रूमेंट हो उसमें अगर बडी अर्थ की वायरिंग किए हैं तो हमें करंट नहीं लगे बल्कि जो करंट उतरे वह अर्थ के थ्रू उतर जाए और हमें करंट नहीं लगे और हमें बचाओ देता है अर्थ का वायरिंग अर्थ जमीन से किया जाता है इसीलिए उसे ग्राउंड भी कहा जाता है लेकिन कभी कभी कहीं पर न्यूट्रल नहीं होने के कारण अर्थ को न्यूट्रल में यूज किया जाता है तो वहां पर एमसीबी लगाते हैं तो जैसे अर्थ को न्यूट्रल में और फेज पावर को यूज किए हैं तो वहां पर एमसीबी लगाए हैं तो अगर शॉर्ट सर्किट होता है तो एमसीबी ट्रिप करने का एक लिमिट सीमा होता है जैसे अगर आपका अर्थ मजबूत है बहुत ही भी तो 16 एंपियर की एमसीबी को ट्रिप करा सकता है नहीं तो जिस हिसाब से आप का अर्थ है उस हिसाब से एमसीबी ट्रिप करेगा जैसे इसमें एक बात का और ध्यान रखना होगा कि कभी भी इलेक्ट्रिक सर्किट ब्रेकर चाहे कोई सा भी हो अच्छी कंपनी का ले नहीं तो अच्छी कंपनी नहीं होने पर बहुत सी कंपनी का एमसीबी 6 एंपियर तक का एमसीबी को न्यूट्रल फेस देने पर ही टाइप करेगा और बहुत सा लोकल ब्रांड कंपनी है जो ट्रिप नहीं करता है क्योंकि उनकी क्वालिटी अच्छी नहीं होती है जैसे मैंने अपने यूट्यूब चैनल पर यह वीडियो अपलोड किया है आप इस वीडियो को देख कर के और भी बेहतर तरह से समझ सकते हैं

electric work center
इस लिंक पर क्लिक करके उस वीडियो को देख सकते हैं


आपने इतना कीमती समय निकाला और हमारी वेबसाइट पर इतना समय दिया उसके लिए बहुत-बहुत धन्यवाद
👍👍👍

Monday, December 24, 2018

December 24, 2018

MCB changeover switch connection and work

MCB changeover connection and work and price the best company Hindi

MCB चेंज ओवर स्विच को किसी भी दो पावर सप्लाई को एक्सचेंज करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है जैसे दो जरनेटर हो तो दोनों जरनेटर का लाइन इसके इनपुट में कनेक्शन कर दिया जाता है और आउटपुट में अपना लोग चलाया जाता है जिस जनरेटर का सप्लाई हम यूज करना चाहे उस साइड इसे चेंज कर लेते हैं प्लस पावर बंद करना हो तो इसमें पावर बंद करने के लिए भी ऑप्शन दिया जाता है या नहीं इसका स्वीट 3 पॉइंट में काम करता है नीचे आपको एक पावर सप्लाई आउट करता है बीच में पावर दोनों का बंद रखता है ऊपर दूसरा पावर सप्लाई आउट करता है ऊपर या नीचे जिस पावर को कनेक्शन करें जैसे नीचे जरनेटर का कनेक्शन करते हैं तो नीचे करने पर जनरेटर का ही पावर आउट करेगा ऊपर अगर मेन पावर सप्लाई गवर्नमेंट का कनेक्शन करते हैं तो इसे ऊपर करेंगे तो मेन पावर सप्लाई गवर्नमेंट का आउट करेगा या नहीं जिसका कनेक्शन हम चाहे जिधर काम करें उस तरह से कनेक्शन कर सकते हैं लेकिन यह एमसीबी चेंज ओवर स्विच है लेकिन मैनुअल चेंज ओवर भी आता है या रिवर्सिंग चेंज ओवर या ऑटोमेटिक चेंज ओवर भी आता है लेकिन एमसीबी चेंजर उस जगह पर इस्तेमाल किया जाता है जहां पर एमसी बॉक्स में ही लगाना हो यानी सुंदर दिखे और कम जगह में आपको एमसीबी चेंजर लगाया जाता है जैसे नीचे दिखाए गए इस फोटो में देखें यहां पर एमसीबी चेंजर यूज़ किया गया है और एमसीबी भी यूज किया गया है जो एक ही एमसीबी बॉक्स में पूरा है
इस तरह से बॉक्स में लगा सकते हैं अंदर ग्राउंड या ओपन कहीं पर भी एमसीबी बॉक्स लगा करके एमसीबी चेंजर को लगाया जा सकता है

लेकिन सबके मन में एक सवाल रहता है एमसीबी चेंजर शॉर्ट सर्किट होने पर ट्रिप करता है कि नहीं करता है

 एमसीबी चेंजर कभी भी शार्ट सर्किट पर ट्रिप नहीं करता है चाहे वह किसी भी कंपनी का हो एमसीबी चेंजर सिर्फ 2 पावर सप्लाई को चेंज करता है एक छोटी सी जगह में जैसे एमसीबी एक छोटा स्टूमेंट है और उसी में कैपेसिटी जैसे 25 एम्पीयर 32 एम्पीयर 40 एंपियर 63 एम्पीयर ज्यादातर आपको देखने के लिए मिलेगा और यह छोटी सी जगह पर लग जाता है जैसे एमसीबी बॉक्स जिसके लिए इसे ज्यादा लोग इस्तेमाल करते हैं क्योंकि सुंदर भी लगता है लेकिन शार्ट सर्किट पर यह ट्रिप नहीं करता है अपने माइंड से आप निकाल दीजिए क्योंकि अभी तक कहीं पर देखा नहीं गया है हो सकता है आने वाले समय में शार्ट सर्किट से लगने पर ऐसा भी एमसीबी चेंज ओवर आ जाए जो ट्रिप करें अगर आप लोगों को कहीं पर भी एमसीबी चेंजर शार्ट सर्किट होने पर ट्री करता है वैसा दिखता है और उस कंपनी का नाम क्या है नीचे कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं क्योंकि अभी तक हमारे नजर में इस तरह का एमसीबी चेंजर नहीं आया है अभी तक

एमसीबी चेंजर में कनेक्शन पॉइंट 2 और 6 एक पावर सप्लाई इनपुट होता है 4 और 8 दूसरा पावर सप्लाई इनपुट होता है 1 और 5 आउटपुट होता है जिसे लोड कनेक्शन किया जाता है जैसे नीचे दिए गए फोटो को ध्यान से देखें

और क्वालिटी की बात करें जैसे किस कंपनी का सबसे अच्छा एमसीबी चेंज ओवर होता है तो सबसे पहले आपका एंकर ही आता है ऐसे बहुत से लोग कहेंगे हैवेल्स बेहतर होता है बहुत से लोग कहेंगे श्नाइडर बेहतर होता है बहुत से लोग कहेंगे एलएनटी बेहतर होता है लेकिन हर जगह पर हर कंपनी नहीं मिलता है इसलिए यहां पर हम कहेंगे आप इन कर लीजिए अगर मिल जाता है आपके मार्केट में तो नहीं मिलता है तो आप हैवेल्स लीजिए अगर हैवेल्स भी नहीं मिलता है तो को ना लीजिए अगर को ना भी नहीं मिलता है तो आप के मार्केट में बहुत सी कंपनियां मिल जाएंगे जैसे एलएनटी सिमेंस श्नाइडर इस तरह की बहुत सी कंपनियां मिलेंगे आप उन कंपनियों का एमसीबी चेंज ओवर लगा सकते हैं

एमसीबी चेंज ओवर स्विच दो तरह के आते हैं DP जिसे डबल पुल कहा जाता है इसमें एक न्यूट्रल एक फेस का कनेक्शन किया जाता है और दूसरा FP या TPN कहा जाता है जिसमें तीन फेस 1 न्यूट्रल का कनेक्शन किया जाता है और 25amp,32amp,40amp,63amp, में आता है अपने लोड के हिसाब से लगाया जाता है


लेकिन हम यहां पर सबसे पहले आपको एंकर के बारे में बताएंगे और इसका प्राइस लिस्ट बताएंगे इस प्राइस लिस्ट में जो रेट बताया गया है इसमें आप को डिस्काउंट मिलेगा जो हर मार्केट में हर शहर में अलग-अलग हर दुकान का अपना-अपना हिसाब और डिस्काउंट होता है तो मैक्सिमम 20 परसेंट मान के चलिए फिर भी ज्यादा मिल जाए तो अच्छी बात है कब मिल जाए तो हो सकता है वहां पर उसी रेट के हिसाब से उसे बिलिंग किया गया हो तो आपको इस प्राइस लिस्ट के हिसाब से कम और ज्यादा रेट में मिल सकता है यह हमेशा ध्यान रखें

और यह आपका हैवेल्स का प्राइस लिस्ट है इसमें भी सेम आपको 20 पर्सेंट तक डिस्काउंट मिल जाएगा हो सकता है आपके मार्केट में कुछ कम ज्यादा डिस्काउंट में मिले

और यह आपका कोना कंपनी का है इसमें भी सिम आपको 20 परसेंट तक डिस्काउंट मिल सकता है इसमें भी हो सकता है आपके मार्केट में कुछ कम ज्यादा रेट या डिस्काउंट मिले

अगर आप वीडियो के माध्यम से देखना चाहते हैं कि एमसीबी चेंज ओवर का कनेक्शन कैसे करते हैं तो इस वीडियो के माध्यम से देख कर अच्छी तरह से समझ सकते हैं कि कनेक्शन कैसे किया जाता है और कैसे काम करता है



इस पूरी आर्टिकल को पढ़ने के बाद किसी भी तरह का आपके मन में सवाल या सुझाव है तो कमेंट बॉक्स में जरूर लिखें आपने हमारे इस वेबसाइट पर इतना कीमती समय निकाला इसके लिए बहुत-बहुत धन्यवाद
👍👍👍

Sunday, December 23, 2018

December 23, 2018

Electric PVC gang box switch board

Electric PVC gang box switch board size and price wholesale and retail
इलेक्ट्रिक पीवीसी गैंग बॉक्स ओपन स्विच बोर्ड है जिसे हम लोग कहीं पर ओपन वायरिंग या टेंपरेरी स्विच बोर्ड लगाने के लिए इस्तेमाल करते हैं इसमें हर साइज का आता है और हर क्वालिटी का आता है कहीं पर लोरेंज का क्वालिटी का बोर्ड मिलेगा कहीं पर मीडियम क्लास क्वालिटी का बोर्ड आपको मिलेगा और कहीं पर हैवी क्वालिटी का बोर्ड मिलेगा कहीं पर बहुत ज्यादा बेहतर सुंदरता और क्वालिटी मिलेगा उसके हिसाब से बहुत कंपनी जो इस तरह के पीवीसी गैंग बॉक्स स्विच बोर्ड बनाती है और अपनी मैटेरियल के क्वालिटी के हिसाब से दाम(रेट) रखती है यहां पर जो भी आपको रेट बताया जाएगा हो सकता है आप अगर मार्केट में खरीदने जाए तो कम या ज्यादा दाम में मिले तो हर शहर में हर दुकानदार के रेट और हिसाब किताब अलग अलग होता है तो हो सकता है आपको यहां पर जो रेट बताया गया है उसमें डिफरेंस हो

इस तरह के अगर आप लॉन्ग में लेते हैं 1 से लेकर 8 तक तो इसका दाम यहां पर L का मतलब लोरेंज M का मतलब मीडियम रेंज H का मतलब हाई रेंज है और यह सब रिटेल रेट है अगर आप होलसेल में खरीदते हैं तो आपको 20% या 30%  इस दोनों के बीच में डिस्काउंट इतना मिल सकता है हो सकता है कुछ मटेरियल की क्वालिटी और रेट के हिसाब से परसेंटेज आपको कम और ज्यादा भी पड़े होलसेल में पर यहां पर सिर्फ रिटेल रेट बताया जा रहा है 
यह लोंग साइज है और 1 से लेकर 8 तक का रेट नीचे यह दिया गया है L,M,H, रेंज में

            L .              M .                  H.  
1way 10rs .         20rs .              30rs.  
2way 14rs,.         30rs .              40rs . 
3way 18rs.          40rs .              50rs .
4way 24rs .         50rs .              60rs. 
5way 30rs .         60rs.               70rs . 
6way 35rs .         70rs .              80rs.  
7way 40rs .         60rs.               90rs . 
8way 45rs .         70rs .              100rs .

उसके बाद आप इस टाइप के लेते हैं जो नीचे फोटो दिया गया है स्क्वायर में



L .                  M .                    H
8way 65rs.           75rs.               105rs.      
10way 80rs.            105rs.            115rs .         
12 way 85rs.          115rs.             125rs.          
14 way 100rs .       125rs .             140rs. 


16 way 120rs .       135rs .            155rs .

8way 140 rs .        155rs .             170rs.        

          
उसके बाद इस तरह के बोर्ड आते हैं जो नीचे आपको फोटो दिख रहा है


इस तरह के बॉडी जिसमें कटिंग नहीं होता है स्विच सॉकेट फ्यूज इंडिकेटर या फैन रेगुलेटर यह बिल्कुल प्लेन होता है इसके ऊपर जो भी सामान अप लगाना चाहते हैं उस के साइज की कटिंग करके लगाना पड़ता है और इसमें साइज जो आता है और यह आपको इंच साइज में आता है जैसे रेट और साइज इस तरह से
L .             M .              H . 
 4×4" . 30rrs .           45rs.           60rs .  

 7×4".  55rs .              80rs.           95rs. 
8×6".   70rs .              100rs .       125rs .
8×10" . 95rs .             115rs.        140rs. 

उसके बाद यह साइज जिसमें आपको एक 16 एंपियर का स्विच या आप सॉकेट लगा सकते हैं उसके बाद चार 6 एंपियर का सॉकेट लगा सकते हैं
 L60rs, M80rs, H105rs,

उसके बाद यह जो नीचे दिया गया है फोटो इसमें आप दो 16 एंपियर का सॉकेट या दो 16 एंपियर का स्विच या एक्स्क्लेम पर का स्विच एक 16 एंपियर का सॉकेट लगा सकते हैं या एक एसएस कंबाइंड लगा सकते हैं
L25rs, .  M40rs,.    H60rs, .

उसके बाद यह जो आपको देख रहा है नीचे फोटो में इसमें सिर्फ आप 16 amp का स्विच या सॉकेट कोई एक लगा सकते हैं
L20rs,.     M30rs .   H40rs, . 

उसके बाद यह जो है हमारा प्राइस लिस्ट है जो कंपनी देता है और इसके ऊपर डिस्काउंट होता है पर यह आपको हर कंपनी में है अलग-अलग डिस्काउंट मिलता है और इसमें हर कोई अंदाजा सही रेट कहा नहीं लगा पाएगा क्योंकि जब तक आप किसी होलसेल या कंपनी के थ्रू काम नहीं करेंगे तो आपको ओपन रेट नहीं बताया जाता है इसलिए इसमें आप 10% 20% 30% जितना भी चाहे अनुमान लगा ले पर इसके बारे में मैं यहां पर ओपन नहीं करूंगा क्योंकि इसी हिसाब से सेलआउट दुकानदारों को करना होता है पर आपको इसमें रेट बतला दिया गया है प्रॉपर तरह से उसके बाद इसमें डिस्काउंट होता है


  इसमें आपको जितना भी रेट बतलाया गया है वह सब हम जहां पर रहते हैं लोकल मार्केट में इस रेट पर मिलता है पर आपको हो सकता है कुछ अलग ही रेट में मिले या हो सकता है क्वालिटी भी अलग मिले उसके हिसाब से रेट में डिफरेंस पड़ सकता है अगर आप वीडियो के माध्यम से देखना चाहते हैं हिंदी में तो नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके हमारे यूट्यूब के वीडियो को देख कर के और भी अच्छी तरह से समझ सकते हैं

इसे पूरा तरह से पढ़ने के बाद आपके मन में किसी भी तरह का सवाल सुझाव है तो नीचे कमेंट बॉक्स में जरूर लिखें आपने इतना कीमती समय निकाला और हमारे वेबसाइट पर इस आर्टिकल को पड़ा उसके लिए आपको धन्यवाद
👍👍👍

Tuesday, December 18, 2018

December 18, 2018

सबसे अच्छा इलेक्ट्रिक वायर किस कंपनी का होता है ।। top quality company wires and cables

Good quality electric wires and company name

इलेक्ट्रिक वायर एंड केबल हर कंपनी अपनी अपनी क्वालिटी बनाती है और सब का अलग अलग रेट होता है और फायरप्रूफ एंड कॉपर एंड गेज सब का अलग अलग होता है 
लेकिन हम अपने घरों में जब भी इलेक्ट्रिक (electric wiring) काम कराते हैं उस टाइम पर हम लोग सोचते हैं किसी भी अच्छी कंपनी का वायर एंड केबल लगाएं ताकि खराब नहीं हो जैसे फायर प्रूफ हो कॉपर सही हो गेज प्रॉपर हो लोड पर जले नहीं आग लगे नहीं शार्ट सर्किट नहीं हो शार्ट सर्किट लगने पर किसी भी तरह का नुकसान नहीं हो इसके लिए ब्रेकर यूज किया जाता है जैसे MCB,ELCB/RCCB,MCCB , ...इत्यादि )
जब भी हमारे घरों में ज्यादा कहीं पर ओवरलोड हो जाए वायर के कैपेसिटी से या कोई इंस्ट्रूमेंट शॉर्ट सर्किट हो या किसी भी तरह से इलेक्ट्रिकल वायर की हिटिंग कैपेसिटी से ज्यादा हो जाए तो उस टाइम पर हमारा ब्रेकर काम करता है और पावर को ऑफ कर देता है यानी ट्रिप कर जाता है और हमारा नुकसान नहीं होता है तो कभी भी हम लोग अपने घरों में अच्छी क्वालिटी का वायर या कोई भी इलेक्ट्रिकल इंस्ट्रुमेंट लगाते हैं ताकि खराब नहीं हो और प्रॉब्लम नहीं आए और सेफ रहे हम यहां पर इलेक्ट्रिकल वायर एंड केबल की कुछ कंपनियों का नाम बताएंगे जो अच्छी मैटेरियल यूज करती है और वायर एंड केबल अच्छा क्वालिटी का बनाता है यहां पर आपको किसी भी कंपनी को गलत
 या सही
✔️
नहीं बताया जा रहा है जो सच है जो हकीकत है जो इनके मैटेरियल की क्वालिटी है उसके आधार पर मैं यहां पर इन कंपनियों का नाम बता रहा हूं जो अभी इस टाइम पर अच्छी क्वालिटी का वायर एंड केबल बनाती है

1 नंबर पर आता है
polycab 
2 नंबर पर आता है
Finolex
 3 नंबर पर आता है 
Havells
4 नंबर पर आता है 
RR cable
                           5 नंबर पर आता है 
                                                              KEI

और वायर की रेट (price) हर कंपनी का अलग अलग होता है और हर जगह पर अलग-अलग डिस्काउंट आपको मिलेगा जो हम नीचे अभी फोटो दे रहे हैं इसमें आप को डिस्काउंट मिलता है लगभग 10%, to 50%, तक आता है और हर कंपनी हर शहर में अलग अलग दुकानों पर अलग-अलग रेट में मिलेगा आपको मैं यहां पर फाइनल रेट नहीं लिख सकता हूं इसलिए क्योंकि कहीं पर कम और ज्यादा दामों में मिलेगा तो हमें क्लेम करेंगे आप लोग इसलिए मैं यहां पर फिक्स रेट नहीं बता सकता हूं क्योंकि हर जगह पर अलग-अलग होता है

Polycab,

 Finolex,

 Havells,

 RR cable,

 KEI,


इसी तरह से और भी बहुत कंपनियां हैं जिनका मैं यहां पर नाम नहीं ले रहा हूं जो अपने क्वालिटी के हिसाब वायर एंड केबल बनाती है यहां पर जो सबसे बेहतर है उसका मैंने नाम लिया है और उसके बाद तो बहुत सी कंपनियां है जैसे greatwhite, anchor, V Guard, powertech, Kalinga,... इत्यादि जैसी बहुत सी कंपनियां है जिसका मैं यहां पर नाम नहीं लिया जा रहा है और बहुत लोकल कंपनियां भी हैं जिनका गेज सही नहीं होता है कॉपर सही नहीं होता है पीवीसी फायरप्रूफ नहीं होता है और भी बहुत तड़का मिक्स वायर होता है जैसे सीसीए मिक्स हुआ या लोहा मिक्स हुआ और भी बहुत तरह के मिक्स होते हैं जो सही नहीं होते है



और एक हर कंपनी का एक आई एस आई मार्क का होता है



आई एस आई एक संस्था है जहां पर हर कंपनी का मटेरियल प्रोडक्ट का गुणवत्ता के हिसाब से उस पर रैंकिंग दिया जाता है जैसे अगर आप गूगल में सर्च करते हैं wiring wire ranking तो आपको एक लिस्ट आएगा जिसमें 1 से 5 तक या एक से 10 तक का लिस्ट मिल जाएगा जिसमें आपको कंपनी की रैंकिंग बताई जाएगी एक नंबर पर कौन है दो नंबर पर कौन है इसी तरह से कितने नंबर पर किस कंपनी का नाम है यानी किस लेवल पर कौन सा कंपनी है और उसके प्रोडक्ट के हिसाब से यह रैंकिंग दिया जाता है लेकिन हर जगह पर हर कंपनी का वायर एंड केबल या कोई भी इलेक्ट्रिकल प्रोडक्ट नहीं मिलता है क्योंकि हर जगह पर हर दुकानदार नहीं रखते हैं और नहीं बेचते हैं जिसके वजह से हर जगह पर हर कंपनी का आपको नहीं मिलेगा 

YouTube video

Thanks for all viwers
EWC
👍👍👍